Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

ब्यूरो : ( आखिर क्यों न्यूज़ ) शिव सेना (अखंड भारत) व विश्व हिंदू संघ की एक विशेष बैठक राष्ट्रीय प्रधान अजय मेहता की अध्यक्षता में हुई जिसमें पूरे देश में लगातार हो रही हिंदुओं की हत्याओं और कुछ देश द्रोहीओं द्वारा दिए जा रहे देश विरोधी बयानों के बावजूद सरकारों द्वारा इन पर कोई कार्रवाई ना कर पाने के लिए केंद्र सरकार व राज्य सरकारों को जम कर लताड़ लगाई गई। बैठक को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय प्रधान अजय मेहता, राष्ट्रीय महासचिव अनिल गोयल और शिव सेना (अखंड भारत) के संगठन मंत्री गौरव कौड़ा और शिव सेना (अखंड भारत) के पंजाब के उप प्रधान सतपाल रल्ल ने कहा कि पिछले दिनों फगवाड़ा के एसडीएम को राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन समूह हिंदू संगठनों की तरफ से सौंपा गया था जिसमें पूरे देश में लगातार हो रही हिंदुओं की हत्याओं पर रोक लगाने की मांग की गई थी। लेकिन हिंदुओं पर अत्याचार लगातार बढ़ रहे हैं और कोई भी सरकार हिंदुओं के साथ खड़ी नजर नहीं आ रही। उन्होंने कहा कि पिछली किसी भी घटना से सरकारों ने कोई सबक नहीं सीखा है जिसका नतीजा है कि हिंदू विरोधी घटनाओं में लगातार वृद्धि हो रही है। हिंदुओं को चुन चुन कर मारा जा रहा है और हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई जा रही है। ताजी घटनाओं का उल्लेख करते हुए विश्व हिंदू संघ व शिव सेना (अखंड भारत) के राष्ट्रीय प्रधान अजय मेहता ने हरियाणा में हुए निकिता सिंह हत्याकांड की कठोर शब्दो मे निंदा करते हुए कहा कि आज देश मे हिन्दू बहन बेटियां जेहादी मानसिकता के लोगों से सुरक्षित नही हैं। आज देश मे हिन्दू समाज पर लगातार अत्याचार बढ़ रहे है, और सरकारें चाहे वो केंद्र सरकार हो या अन्य किसी भी राज्य की सरकारें सभी सत्ता की मलाई खाने में व्यस्त हैं। इसी का परिणाम है कि आज हिन्दू कई राज्यो में अल्प संख्यक होता जा रहा है। शिव सेना अखंड भारत के संगठन मंत्री गौरव कौड़ा ने कहा कि हिन्दू समाज ने स्वंय को खत्म करने के लिए जातीवाद का जहर घोल लिया है, जिस कारण अपने ही अपनों को काट रहे हैं। उन्होंने कहा कि अमृतसर में भगवान श्री राम जी का पुतला दहन करने की घटना इस बात का सबूत है कि कुछ लोग देश द्रोहीओं के हाथों की कठपुतली बन कर रह गए हैं जिसका फायदा ये जेहादी ओर हिन्दू धर्म विरोधी लोग उठा रहे हैं। विश्व हिंदू संघ व शिव सेना (अखंड भारत) के राष्ट्रीय-महासचिव अनिल गोयल ने कहा कि कश्मीर में अब्दुल्ला बाप-बेटा व महबूबा मुफ्ती जब से नजरबंदी से आजाद हुए हैं तब से भारत विरोधी ब्यान देकर आतंकियों को संगठित करने का प्रयास कर रहे हैं, जबकि सरकार इनके विरुद्ध कोई कार्रवाई ना करके इनके मनसूबों को सफल बनाने में मदद कर रही है। उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की कि इन देश-द्रोहीओं के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए जो भारत को अस्थिर करने में लगे हुए हैं। शिव सेना (अखंड भारत) के पंजाब के उप प्रधान सतपाल रल्ल ने कहा कि अमृतसर में भगवान श्री राम जी का पुतला दहन करने की घटना की जितनी भी निंदा की जाए उतनी ही कम है। उन्होंने कहा कि इस घटना ने सरकार व प्रशासन की भी पोल खोल कर रख दी है कि उनका खूफिया तंत्र पूरी तरह से फेल है, जो समय पर इस षड़यंत्र का पता लगा कर इसे रोकने में पूरी तरह असफल रहा है। उन्होंने कहा कि कोई भी सरकार हिंदुओं को सुरक्षा देने में समर्थ नहीं है, इसलिए अब हिंदुओं को अपनी सुरक्षा स्वंय के हाथों में लेने का समय आ गया है। इसके लिए वह राष्ट्रपति महोदय से अपील करते हैं कि हिन्दुओं को आर्म्स लाइसेंस दिए जाएं। उन्होंने कहा कि हिन्दू समाज पर और नारी शक्ति पर अत्याचार कतई बर्दाश्त नही किया जाएगा तथा अब ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा। उन्होंने इसके साथ ही हिन्दू समाज को जागने ओर संगठित होने की भी अपील की। इस बैठक में पंजाब सचिव सिमर कुमार, देहाती प्रधान जतिंदर कौशल (बब्बी), पम्मा तलवार, जसविंदर कुमार, बहादुर सिंह, सतनाम सिंह, गुरदीप लाल आदि भी उपस्थित थे।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.