Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

जालंधर ब्यूरो : (आखिर क्यों न्यूज़, वरिंदर शर्मा ललित कुमार ) : पेट्रोल और डीजल की बढ़ी कीमतें  स्कूलों की फीस है  और बिना बताए लोगों के गरीब लोगों के नीले कार्ड का कैंसिल करने के विरोध में आज  शिरोमणि अकाली दल के मीत प्रधान  चंदन ग्रेवाल के नृत्य में पंजाब सरकार के खिलाफ एक भारी रोष प्रदर्शन किया गया।   जालंधर में स्कूलों द्वारा बच्चों से ली जा रही स्कूल फीस, डीजल और पेट्रोल पर बढ़े दाम, जरूरतमंदों को अनाज का सही तरह से बंटवारा न करना और जानबूझकर कई नीले कार्डों को रद्द करने के विरोध में शिरोमणि अकाली दल के चंदन ग्रेवाल व पूर्व मेयर सुरेश सहगल के नेतृत्व में कंपनी बाग चौक पर धरना प्रदर्शन किया गया। इस धरने में अकाली दल के कई अन्य बड़े नेता कहीं भी नजर नहीं आए।
इस मोके सफाई मजदूर यूनियन के प्रधान चंदन ग्रेवाल ने बताया कि मौजूदा सरकार की भेदभाव वाली नीति के कारण जरूरतमंदों को अनाज नहीं मिल सका। उन्होंने कहा कि कुछ अनाज तो गोदामों के बाहर पड़ा पड़ा ही सड़ गया और गरीब आदमियों को नहीं मिला। हम केंद्र सरकार और पंजाब सरकार से यह मांग करते हैं कि यह जो जरूरतमंद लोग हैं उसे अनाज का सही प्रकार से वितरण हो। केंद्र सरकार द्वारा डीजल और पेट्रोल की बढ़ाई गई कीमतों का आम जनता पर बहुत ही बोझ बढ़ रहा है। आम जनता गरीबी के कारण बहुत मुश्किल से अपने परिवार का पोषण कर रही है। जबकि महामारी में लोग जैसे-जैसे गुजारा कर रहे हैं। आम आदमी को काम नहीं मिल रहा। सरकार की तरफ देख रहा है। गूंगी बहरी सरकार है किसी की नहीं सुन रही। सुरेश सहगल ने कहा कि हम यह मांग करते हैं कि हमारी मांगों पर तुरंत कार्रवाई की जाए और गरीब आदमियों को भोजन का रास्ता बताया जाए और पेट्रोल और डीजल के दाम कम किए जाए साथ ही स्कूल की फीसों पर भी लगाम लगाई जाए। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनावों में सरकार ने लोगों के साथ कई बड़े वादे किए थे, जो अभी तक पूरे नहीं हुए है। इसलिए सरकार की वादाखिलाफी के खिलाफ अब आम लोग भी सड़कों पर उतर रहे है।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.