Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements


जालंधर ,(आख़िर क्यों न्यूज़):बुधवार को किसान आंदोलन को 6 महीने का समय पूरा हुआ आज भी किसान दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर तीन कृषि कानूनों को रद्द करवाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

जिसके रोज स्वरुप पूरे पंजाब में कई राजनीतिक धार्मिक व सामाजिक संगठनों ने केंद्र सरकार के खिलाफ पुतला फूंक प्रदर्शन किया।

Advertisements
Advertisements

इस दौरान कचहरी चौक में मुस्लिम संगठन पंजाब के साथ मिलकर एडवोकेट फॉर फार्मर एंड लेबरर्स संगठन की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका गया नईम खान एडवोकेट ने बताया कि किसान लंबे समय से संघर्ष कर रहे हैं लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनकी तरफ ध्यान नहीं दे रहे उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का किसानों के साथ यह सौतेला रवैया देख रहा है ।

Advertisements

सर्दियों के बाद अब तेज गर्मी के नीचे किसान संघर्ष करने को मजबूर हैं सैकड़ों किसान इस संघर्ष में शहीद हो चुके हैं लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपना अड़ियल रवैया छोड़ने को तैयार नहीं है।

उन्होंने सरकार को तीनों कृषि कानून रद्द करने की मांग करते हुए कहा कि पहले दिन से मुस्लिम संगठन पंजाब किसानों के साथ इस संघर्ष में शामिल है और आने वाले समय में भी मुस्लिम संगठन पंजाब किसानों के साथ खड़ा रहेगा।

वहीं सीनियर एडवोकेट व प्रधान गुरजीत सिंह काहलों ने कहा कि देश में एक नई राजनीति को आयाम दिया जा रहा है जो डिक्टेटरशिप की तरफ हमें लेकर जा रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना अड़ियल रवैया छोड़कर किसानों के साथ बातचीत करनी चाहिए और इन तीनों कृषि कानूनों को जल्द से जल्द रद्द करना ही समय की मांग है इस मौके पर बड़ी संख्या में एडवोकेट और मुस्लिम संगठन पंजाब के लोग मौजूद रहे

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.