Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

    ब्युरो : (आखिर क्यों न्यूज़ ) :    करीब तीन माह पूर्व कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शुक्रवार को अपनी नई पारी की पहली बाधा पार कर ली। राज्यसभा चुनाव में भाजपा ने उन्हें उम्मीदवार बनाया और सिंधिया की जीत भी हो गई है। अब उनके लिए भाजपा में नया रास्ता खुलेगा। उन्हें मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की संभावना बढ़ गई है।

पिता पूर्व केंद्रीय मंत्री माधव राव सिंधिया की असामयिक मृत्यु के बाद राजनीति में सक्रिय हुए ज्योतिरादित्य ने वर्ष 2018 के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाई, लेकिन पार्टी ने उन्हें मुख्यमंत्री की रेस से बाहर कर दिया।  राज्यसभा चुनाव में भी उन्हें कांग्रेस में प्रथम वरीयता का उम्मीदवार बनने की संभावना नहीं दिखी तो उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया।

Advertisements
Advertisements

मध्य प्रदेश विधानसभा की 24 सीटों पर निकट भविष्य में उप चुनाव होने हैं। इनमें 16 सीटें तो सिंधिया के प्रभाव वाले ग्वालियर-चंबल इलाके की हैं। सिंधिया के लिए भी यह उपचुनाव एक बड़ी चुनौती है और शिवराज सरकार के स्थायित्व के लिए तो मील का पत्थर। ऐसे में भाजपा के नियंता सिंधिया की ताजपोशी कर उन्हें उपचुनाव में स्टार प्रचारक की भूमिका में उतार सकते हैं

Advertisements

जनसंघ और भाजपा में उनकी दादी राजमाता विजयाराजे सिंधिया का दबदबा था। ज्योतिरादित्य की राजनीति बहुत हद तक अपनी दादी से मिलती-जुलती है। विजयाराजे भी पहले कांग्रेस में थी और उन्होंने 1967 में मध्य प्रदेश की द्वारका प्रसाद मिश्र की सरकार गिराकर गोविंद नारायण सिंह के नेतृत्व में जनसंघ की सरकार बनवाई थी। ठीक वही भूमिका 2020 में ज्योतिरादित्य ने निभाई। उनके पिता माधव राव सिंधिया कांग्रेस में रहे, लेकिन नरसिंह राव से मतभेद के बाद उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी। बाद में फिर कांग्रेस में गए। ज्योतिरादित्य की बुआ वसुंधरा राजे सिंधिया राजस्थान की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं, जबकि यशोधरा राजे सिंधिया पिछली शिवराज सरकार में मंत्री रह चुकी हैं। इस समय पूरा सिंधिया परिवार भाजपा में है।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.