Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

जालंधर ब्यूरो : ( आखिर क्यों न्यूज़ ) :  जिला प्रशासन ने होम क्वारंटाइन तोड़कर इधर-उधर घूमने वालों पर और सख्ती शुरू कर दी है। डीसी घनश्याम थोरी के नए आदेश के अनुसार अब होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन में रखा जाएगा। ऐसे लोगों को अब घर के बाहर प्रशासन की तरफ से तय किए गए संस्थानों में रहना पड़ेगा। इन स्थानों पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से तय किए गए प्रोटोकॉल के मुताबिक कई तरह की बंदिशें रहेंगी। होम क्वारंटाइन ‌तोड़ने वालों से दूसरे लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे में डालने के मद्देनजर जिला प्रशासन ने यह फैसला लिया है।रविवार को अधिकारियों के साथ बैठक के बाद डीसी ने यह आदेश दिए हैं। डीसी घनश्याम थोरी ने बताया कि नियम के अनुसार जिन लोगों को टेस्ट लेने के बाद होम क्वारंटाइन किया गया है, उन्हें अपने घर से बाहर आने की इजाजत नहीं है। अगर कोई होम‌ क्वारंटाइन तोड़कर बाहर आता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। होम क्वारंटाइन किए गए लोगों पर नजर रखने के लिए पहले ही 696 टीमें बनाई जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस की महामारी को फैलने से रोकने के लिए प्रभावशाली जंग के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है। इसमें किसी तरह की छूट नहीं दी जाएगी।इस मौके बैठक में एडीसी विशेष सारंगल व जसबीर सिंह, एसडीएम राहुल सिंधु, डॉ. जय इंदर सिंह, लोकल गवर्नमेंट की डिप्टी डायरेक्टर अनुपम कलेर, पुडा की अस्टेट अफसर नवनीत कौर बल, सिविल सर्जन डॉ. गुरिंदर कौर चावला व मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉ. हरिंदर सिंह समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed