Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

व्हाइट हाउस के बाहर तीन दिन से गुस्साए लोग जुटे हैं. रविवार को यहां हालात बेकाबू हो गये और पुलिस के साथ भीड़ का तनाव बढ़ गया. पुलिस ने यहां मौजूद करीब 1000 प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिये आंसू गैस के गोल छोड़े. इसके बाद प्रदर्शनकारियों की तरफ से फायरिंग की गई.

 

  • अश्वेत की मौत पर अमेरिका में बवाल
  • व्हाइट हाउस के बाहर पुलिस के साथ झड़प
  • प्रदर्शनकारियों ने फायरिंग की, आगजनी

ब्यूरो (आखिर क्यों न्यूज़ ):-अमेरिका में एक अश्वेत व्यक्ति की पुलिस हिरासत में हुई मौत के बाद बवाल मच गया है. कई शहरों में इस घटना के खिलाफ प्रदर्शन किये जा रहे हैं. हालात ये हो गये हैं कि व्हाइट हाउस के पास विरोध प्रदर्शन करने वालों का जमावड़ा लग गया है और पुलिस के साथ झड़प के बीच प्रदर्शनकारियों की तरफ से फायरिंग की भी जानकारी आ रही है. हालात को देखते हुए वाशिंगटन डी.सी. में कर्फ्यू लगा दिया गया है. लोगों का गुस्सा इतना ज्यादा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को व्हाइट हाउस के बंकर में जाना पड़ा.

ये पूरा बवाल एक श्वेत पुलिस अधिकारी डेरेक चाउविन की उस हरकत की वजह से हो रहा है, जिसमें उसने 25 मई को 46 वर्षीय जॉर्ज फ्लॉयड को उसकी गर्दन पर घुटना रखकर पकड़ा. इस दौरान फ्लॉयड बार-बार कहता रहा कि मैं सांस नहीं ले सकता..प्लीज, मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं. मुझे छोड़ें. लेकिन पुलिस अफसर की निर्ममता ने जॉर्ज फ्लॉयड की जान ले ली. इस घटना के बाद पुलिस अफसर पर तो एक्शन हो गया है, लेकिन जनता सड़कों पर उतर आई है.

Advertisements
Advertisements

डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के खिलाफ भेदभाव के आरोप लगाते हुये जगह-जगह प्रदर्शन किये जा रहे हैं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दफ्तर व्हाइट हाउस के बाहर भी तीन दिन से गुस्साए लोग जुटे हैं. रविवार को यहां हालात बेकाबू हो गये और पुलिस के साथ भीड़ का तनाव बढ़ गया. पुलिस ने यहां मौजूद करीब 1000 प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिये आंसू गैस के गोल छोड़े.

Advertisements

इसके बाद भीड़ भी एक्शन में आ गई. प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिये और फायरिंग तक शुरू कर दी. इतना ही नहीं कुछ लोगों ने अमेरिका का झंडा तक जला दिया तो कुछ लोगों ने पेड़ की शाखाओं को तोड़ अपने गुस्से का इजहार किया. आसपास मौजूद वॉशरूम और मेंटिनेंस ऑफिस में आग भी लगा दी गई. इस घटना के बाद पुलिस ने बताया कि कई लोगों को हिरासत में लिया गया है. वाशिंगटन डीसी के चीफ ऑफ पुलिस पीटर न्यूजहैम ने जानकारी दी है कि मेट्रोपॉलिटन पुलिस डिपार्टमेंट ने शनिवार रात 17 लोगों को गिरफ्तार किया और विरोध-प्रदर्शन के दौरान 11 पुलिस अधिकारी घायल हो गए हैं.

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed