Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

वाल्मीकि सभाओं ने नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर को दिया मांगपत्र

ठेकेदारी प्रथा बंद करके कर्मचारियों को स्थायी नियुक्ति दी जाए : सोनू हंस

Advertisements
Advertisements

जालंधर ब्यूरो (आखिर क्यों न्यूज़) नैशनल वाल्मीकि सभा, अंबेडकर सोसायटी, वाल्मीकि सभा व यूथ एकता दल की ओर से आज 2 जुलाई दिन वीरवार को एक मांगपत्र नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर हरचरन सिंह को दिया गया। इस संबंधी जानकारी देते हुए नेशनल वाल्मीकि सभा के चेयरमैन सोनू हंस ने कहा कि नगर निगम द्वारा 160 नए कर्मचारी रखे जाने थे, जिनसे शहरी इलाके की गलियों-सडक़ों की सफाई का काम करवाया जाना था। असल में यह कर्मचारी ठेके पर रखे जाने थे और इनसे सीवर की सफाई करवाई जानी है, जबकि मानीय सुप्रीम कोर्ट ने यह आदेश दे रखे हैं कि कोई भी कार्पोरेशन किसी से भी मैनुएली सीवरेज साफ नहीं करवा सकता है। सोनू हंस ने कहा कि नगर निगम जालंधर ने कुछ समय पहले भी कच्चे सीवरमैन रखे थे, जिनसे दो महीने सफाई का काम भी लिया गया, लेकिन आज तक उन्हें बनता वेतन नहीं दिया गया। अब यह भी नहीं बताया जा रहा है कि उन्हें किस ठेकेदार ने काम पर रखा था। सफाई कर्मचारियों की इन्हीं समस्याओं और मुद्दों को लेकर आज वाल्मीकि सभाओं ने एक मांगपत्र नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर को सौंपा। इस दौरान नैशनल वाल्मीकि सभा वाल्मीकि सभा, अंबेडकर सोसायटी, वाल्मीकि सभा, यूथ एकता दल आदि ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कर्मचारियों को पक्की नौकरी देने की जगह उन्हें ठेके पर रखा गया तो वाल्मीकि समाज आंदोलन करेगा। उन्होंने ठेकेदारी प्रथा बंद करने तथा कर्मचारियों को पक्की नौकरी व उचित वेतन दिए जाने की मांग की। इस मौके पर नैशनल वाल्मीकि सभा के चेयरमैन=सोनू हंस, उप चेयरमैन=गौरव कल्याण, प्रधान=ऋषि सोंधी, सी उप प्रधान=दीपक नाहर, अंबेडकर सोसायटी के अध्यक्ष विकास गिल, राजन कल्याण, वाल्मीकि सभा अवतार नगर के अमर कल्याण, यूथ एकता दल के अजय पाल, रविपाल भगानिया व सूरज पाल भगानिया आदि भी मौजूद थे।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed