Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

आखिर क्यों न्यूज़ :ब्यूरो(सूत्र )आई के गुजराल पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी कपूरथला हमेशा ही किसी ना किसी मामले को लेकर चर्चा में रहती है अब नया मामला सामने आया है कि आई के गुजराल पंजाब टेक्निकल यूनिवर्सिटी में नियमों का उल्लंघन करके कॉन्ट्रैक्ट बेस पर स्टूडेंट Conssellor नियुक्त किया गया है इस मामले में पीटीयू के कुछ अंदर के कर्मचारियों नेअपना नाम गुप्त रखने की शर्त पर बताया कि जिस महिला को स्टूडेंट Conssellor नियुक्त किया गया है वह वहीं पर करीबन 2 साल से कॉन्ट्रैक्ट बेस पर क्लर्क की पोस्ट पर नियुक्त थी और इस महिला को किसी भी तरह से स्टूडेंट Conssellorका कोई भी एक्सपीरियंस नहीं है यदि इस महिला की ओर से एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट लगाया गया है तो वह भी हमें नकली होने की आशंका है कर्मचारियों का यहां तक भी कहना है कि जो डिग्री इस महिला द्वारा स्टूडेंट Conssellor पद को प्राप्त करने के लिए लगाई गई है उसकी भी वेरिफिकेशन करवाई जाए वहीं कर्मचारियों का कहना है कि यह अंदर के बड़े अधिकारियों एवं एक बड़े अधिकारी के PA की मिलीभगत से हुआ है और यह सब कार्य पीटीयू के वीसी के नाक के नीचे हुआ है जब भी किसी कॉलेज या किसी यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट Conssellor नियुक्त किया जाता है उसके लिए क्या क्या criteria होना चाहिए किसी अन्य कॉलेज की हमने अपने न्यूज़ पोर्टल में अपनी ओर से एक नोटिफिकेशन साथ में लगाई है वही हमारे ptuअंदर के सूत्रों का कहना है कि जहां तक हमें लगता है ऐसी कोई भी गाइडलाइन कंपनी यहां ptu की ओर से फॉलो नहीं की गई 25 /6/2022जून को सप्लाई आर्डर निकाला जाता है पीटीयू की ओर से और 26 को इस पोस्ट पर sis कंपनी की ओर से पीटीयू में नियुक्ति भी हो जाती है sis कंपनी या पीटीयू की ओर से इस नई पोस्ट के लिए किसी भी तरह की एडवर्टाइजमेंट या नोटिफिकेशन तक जारी नहीं की गई इस महिला की नियुक्ति करवाने के लिए पीटीयू के अधिकारियों द्वारा किसी को कानों कान खबर तक नहीं लगने दी गई जब इस महिला की नियुक्ति हो गई तब खाना पूर्ति के लिए केवल एक सप्लाई आर्डर जारी किया जाता है पीटीयू द्वारा जारी किए गए सप्लाई आर्डर में लास्ट की एक लाइन में एक तरफ लिखा गया है पारदर्शिता जबकि इस नियुक्ति में किसी भी तरह की पारदर्शिता नजर नहीं आ रही
अन्दर के अधिकारियों की मिलीभगत से खूब जोर से पीटीयू मे आए दिन नियमों का उल्लंघन का दौर आज भी जारी है जबकि पंजाब सरकार की गाइड लाइन के अनुसार किसी भी सरकारी अधारे में डीसी रेट के मुताबिक आप केवल क्लर्क तक का स्टाफ नियुक्त कर सकते हैं इसके ऊपर की नियुक्ति स्वयं नहीं कर सकते

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed