Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

– दलितों को परेशान करने वालों को बेनकाब कर कार्रवाई की जाए
जालंधर 26मई : श्री गुरु रविदास संघर्ष कमेटी पंजाब के प्रधान रोबिन सांपला ने बठिंडा के ग्रंथी गुरमेल सिंह खालसा के खिलाफ दर्ज किए गए अपराधिक मामले की शिकायत राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला से की है ।
रोबिन सांपला ने मांग की है कि आयोग इस मामले की जांच करवाएं क्योंकि यह मामला राजनीतिक बदले की भावना से किया गया है। ऐसे केस दर्ज करवाने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए। रोबिन सांपला ने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला से भेंट कर मामले की शिकायत की। अपनी शिकायत में रोबिन सांपला ने कहा कि बठिंडा जिला के गांव बीड़ तालाब की सरपंच गुरविंदर कौर के पति गुरमेल सिंह खालसा के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने का केस सिर्फ इसलिए दर्ज कर दिया गया क्योंकि उन्होंने गुरुद्वारा साहब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अच्छे स्वास्थ्य और दीर्घायु की अरदास की थी। ग्रंथी गुरमेल सिंह ने यह अरदास इसलिए की थी क्योंकि भारतीय जनता पार्टी ने घोषणा की है कि साल 2022 में होने वाले पंजाब विधानसभा चुनाव में भाजपा दलित व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाएगी। गुरमेल सिंह खालसा भाजपा की इस घोषणा से काफी प्रभावित हुए और इस फैसले के आभार के रूप में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अच्छे स्वास्थ्य की कामना की और ऐसी घोषणा करने के लिए आभार व्यक्त भी किया।
रोबिन सांपला ने पंजाब की सत्तासीन कांग्रेस सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि गुरमेल सिंह खालसा के खिलाफ दर्ज किया गया मामला राजनीति से प्रेरित है क्योंकि पंजाब में कांग्रेस सरकार जनता से अपना विश्वास खो चुकी है। कांग्रेस ने सत्ता में आने से पहले प्रदेश की जनता से जो वादे चुनावी घोषणा पत्र में किए थे उनमें से कोई भी वादा पूरा नहीं किया। इसीलिए अब जब विधानसभा चुनाव नजदीक आए हैं तो कांग्रेस के पास लोगों को जवाब देने के लिए कुछ नहीं है। वहीं दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी प्रदेश में मजबूत हो रही है और गांव में भी अब उसका आधार धीरे-धीरे बढ़ रहा है। इसी बात से क्षुब्ध होकर कांग्रेस के इशारे पर पुलिस ने ग्रंथी गुरमेल सिंह के खिलाफ केस दर्ज किया है। उन्होंने कहा कि पंजाब में कानून व्यवस्था पहले ही चौपट हो चुकी है। पुलिस सरकार की कठपुतली बनकर काम कर रही है। जो भी भारतीय जनता पार्टी के हित की बात करता है उनके खिलाफ झूठे केस दर्ज किए जाते हैं और उन्हें परेशान किया जाता है।
रोबिन सांपला ने कहा कि कांग्रेस कभी भी दलितों की हितैषी नहीं रही है। कांग्रेस ने दलितों को एक वोट बैंक की तरह इस्तेमाल किया है और उसे हमेशा दबाने की कोशिश की है। केंद्र सरकार ने दलित विद्यार्थियों के लिए पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम के तहत पंजाब को करोड़ों रुपए भेजे थे ताकि दलित विद्यार्थी अपनी पढ़ाई पूरी कर सके मगर पंजाब सरकार के एक मंत्री ने स्कॉलरशिप में भी करोड़ों का घोटाला कर लिया और सैकड़ों दलित विद्यार्थी शिक्षा से वंचित रह गए। इतना ही नहीं मंत्री के खिलाफ कार्रवाई करने के बजाय कांग्रेस ने उसे क्लीन चिट दे दी। रोबिन सांपला ने आयोग के चेयरमैन से मांग की गई बठिंडा के ग्रंथी के खिलाफ दर्ज किए गए मामले को तत्काल प्रभाव से रद्द किया जाए और उसे रिहा किया जाए, साथ ही ऐसा मामला दर्ज करवाने के पीछे जिसने भी साजिश की है वह बेनकाब हो और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed