Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

बाबा साहिब सिर्फ दलितों के नेता नहीं बल्कि एक ग्लोबल लीडर थे-राज कुमार फलवारिया

 

जालंधर 6 दिसंबर( आखिर क्यों न्यूज़)। जालन्धर के इन्द्रप्रस्थ होटल में आज डा. बी.आर. अंबेडकर जी के प्रीनिर्वाण दिवस उनकी शिक्षाओं को जिंदगी में धारण करने तथा हमेशा दलित,दबे कुचले व प्रताडि़त लोगो की रक्षा के संक्लपवद्द होने की शपथ ली गई। कार्यक्रम का आयोजन डा. अम्बेडकर विचार मंच के अध्यक्ष राजन अंंगुराल की अध्यक्षता में किया गया, जोकि पिछले 10 दिनों से पोस्टमैट्रिक स्कॉलरशिप घोटाले की जांच और मंत्री साधु सिंह धर्मसोत की बर्खास्तगी की मांग को लेकर अंबेडकर चौंक पर भूख हड़ताल कर रहा था। सैंकड़ो की संख्या में नौजवानों और महिलाओं ने इसमें हिस्सा लिया। इस मौके दिल्ली युनिवर्सिटी के प्रो राज कुमार फलवारिया, श्री गुरु रविदास विश्व महापीठ के अंर्तराष्ट्रीय उपाध्यक्ष विजय सांपला, रिटायर्ड आईएएस स्वर्ण सिंह,राहुल शर्मा संगठन मंत्री एबीवीपी विशेष रुप में शिरकत की व कहा कि डा. साहिब की शिक्षाओं को याद रखते हुए ही समाज का उत्थान संभव है।
समागम को संबोधित करते प्रो राज कुमार फलवारिया ने कहा कि आज बाबा साहिब अंबेडकर के प्रीनिर्वाण दिवस पर हम उनके संघर्ष को याद करते हैं ।बाबा साहिब सिर्फ दलितों के नेता नहीं बल्कि एक ग्लोबल लीडर थे। उन्होंने कहा कि कोलंबिया यूनिवर्सिटी में बाबा साहेब को 300 वर्ष अंतराल में बेस्ट स्टूडेन्ट के लिए ज्यूरी ने चुना जबकि 300 साल में सैंकड़ो बड़ी बड़ी हस्तियां वहां पढ़ी हैं । वो बहुत बड़े अर्थशास्त्री भी थे और देश में विकास के लिए बड़ी बड़ी योजनायें बननी चाहियें ऐसा उन्होंने अपनी थिसिस में लिखा था।
श्री गुरु रविदास विश्व महापीठ के अंर्तराष्ट्रीय उपाध्यक्ष विजय सांपला ने मंच के अध्यक्ष राजन अंगुराल की प्रशंसा की, जिन्होंने दलित विद्यार्थियों के हकों में लिए 10 दिन तक भूख हड़ताल की और इस आयोजन को अंजाम दिया। उन्होंने कहा कि डा. साहिब ज्ञान व शिक्षा के ऐसे प्रचंड सूरज थे जिनका प्रकाश सदीयों तक ज्ञान के जिज्ञासूओं को प्रकाश देता रहेगा। उन्होंने कहा कि डा. अंबेडकर जी ने देश को संविधान दिया जिसकी बदौलत ही विश्व का इतना बड़ा लोकतांत्रिक देश आज विकास के मार्ग पर अग्रसर है। डा.साहिब के प्रयासों के सदक समाजिक क्रांति आई जिसके बाद दबे कुचले व प्रताडि़त व शोषित लोगो की सुनी जाने लगी तथा उनकी तरक्की के मार्ग खुले। सांपला ने कहा कि उनको जीवन में जो उपलब्धियां मिली है वो सब डाक्टर साहिब की बदौलत है।
रिटायर्ड आईएएस स्वर्ण सिंह,राहुल शर्मा संगठन मंत्री एबीवीपी ने कहा कि डा. अंबेडकर ने हमेशा ज्ञान के जरिय समाजिक क्रांति की बात की तथा उठो,पढों ,संगठित हो तथा संर्घष करो का नारा दिया, जो आज भी समाज के लिए कारगर है। मंच अध्यक्ष राजन अंगुराल ने कहा डा.अंबेडकर जी ने ही समाज को अपने हित्तों के संर्घष करने की गुढ़ती दी है जिसकी बदौलत आज समाज जागरुक हो चुका है तथा उन्होंने दलित विद्यार्थियों के हक के लिए समाजिक संस्थाओं के सहयोग से दिन तक भूख हड़ताल की और आगे भी संघर्ष करते रहेंगे लेकि अफसोस कि पंजाब सरकार इस मामले में उदासीन है। राजन अंगुराल ने कहा कि वो दलितों विद्यार्थियों के लिए जल्द सडक़ पर भी उतरेंगे । इस मौके पर विशाल वड़ैच, शीतल अंगूराल, मनजीत बाली,आशु सांपला, रोबिन सांपला,सुभाष भगत, सोनू दिनकर, अनु परमजीत, गोमती भगत, प्रेम सांसी ,जय किशन सोनी, गोगी, प्रवीण भारती, भोला शर्मा आदि उपस्थित थे

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

5 thoughts on “बाबा साहिब ने दलितों,दबे कुचले व प्रातडि़त लोगो के उत्थान के लिए कार्य किया-विजय सांपला”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed