Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप घोटाले को लेकर डाक्टर अंबेडकर विचार मंच द्वारा प्रायोजित भूख हड़ताल दसवें दिन के बाद विराम,अब मीटिंग के बाद होगी अगली रणनीति.. राजन

जालंधर 5 दिसंबर (आखिर क्यों न्यूज़) पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप घोटाले को लेकर डाक्टर अंबेडकर विचार मंच द्वारा प्रायोजित दसवें दिन की भूखहड़ताल के बाद दलित हितों की कातिल सरकार को जगाने के लिए कड़े संर्घष की तैयारी- रॉबिन सांपला चरण को विराम दिया गया तथा सरकार को चेतावनी दी गई कि अब अगले संर्घष का सामना करने के लिए तैयार रहे। दलितों के हक लिए बिना तथा दोषीयों पर कार्यवाही से कम कुछ भी मंजूर नही।
आज की भूख हड़ताल में श्री गुरु रविदास संघर्ष कमेटी की ओर से अध्यक्ष रॉबिन सांपला ,अक्षय जम्मू, धीरज भगत, अश्वनी बबूता ,दिनेश वर्मा ,गौरव बाली ,सागर सहोता, जस्स अठवाल, बलवीर बब्बू, दिनेश कुमार, अनुराग, साहिल सहोता, विवेक, रोहित, नवजीत हनी आदि धरने पर बैठे। शाम को जिला बार एसोसिएशन जालंधर से एडवोकेट हरमिंदर संधू,एडवोकेट राम छाबड़ा , एडवोकेट ओम गंगोत्र, एडवोकेट गोमती भगत,पंजाब कश्यप राजपूत सभा के पंजाब अध्यक्ष जत्थेदार सिंह शालीमार, महामंत्री राकेश कश्यप,अमरीक सिंह ,मनीष बल्ल पर्यावरण सरंक्षण वेलफेयर सोसायटी के अध्यक्ष राज कुमार कलसी, , जय वाल्मीकि,जय भीम सेवा सोसायटी पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष कार्तिक सहोता,विजय हंस,बिल्ला हंस,अमित कल्याण,सुहेल सहोता,लव सौंधी,कुश सौंधी, राजन, नीलकंठ नौजवान सभा दशहरा ग्राउंड बस्ती नौं जालंधर अध्यक्ष नरेंदर भगत, ह्यूमन केयर सोसायटी (रजि:) मंजीत नगर अध्यक्ष प्रदीप सिंह अत्री ने जूस पिला कर हड़ताल खुलवाई। हड़ताल के दौरान श्री गुरु रविदास संघर्ष कमेटी की ओर से अध्यक्ष रॉबिन सांपला ने कहा कि शर्म की बात है कि दलित हित्तों के लिए दस दिन से शुरु शांतमयी धरने के बाद भी पंजाब सरकार के कान पर जूँ नही सरकी। हजारों दलित छात्रों के हिस्से का केंद्र सरकार द्वारा जारी पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप स्कीम का पैसा पंजाब के मंत्री साधु सिंह धर्मशोत ने विभागी अधिकारियों के साथ मिल कर हड़प लिया। जिसका खुलासा किसी बाहरी व्यक्ति ने नही अपितु पंजाब सरकार के ही एक सीनीयर आईएएस अधिकारी ने किया। इसके बाबजूद भी पंजाब सरकार ने आंखों में मिट्टी डालते हुए उस रिपोर्ट को अंधेरे खूह में फैंकते हुए नई जांच बैठा कर मंत्री को कलीन चिट्ट दे दी गई। उन्होंने कहा कि दस दिन पहले जारी संर्घष सिर्फ दस दिन के मात्र संकेतिक चेतावनी के रुप में था,पर सरकार कानो में रुई डाल कर बैठी है। जिसको जगाने के लिए इसको एक जबरदस्त झटका देने की जरुरत है। रॉबिन सांपला व मंच के अध्यक्ष राजन अंगुराल ने बताया कि इस संकेतिक धरने के बाद कल एक विशाल मीटिंग बुलाई गई है,जिसमें सरकार की कारगुजारी पर चर्चा करते हुए अगले संर्घष की रुप रेखा तैयार की जाएगी। राजन अंगुराल ने धरने में सहयोग देने वाली सभी संस्थाओं का अभार जताते कहा कि उनके सहयोग से ही इस संकेतिक मिशन को पूरा किया जा सका है,पर अभी बस नहीं,सरकार को जगाने के लिए कड़े कदम उठाने पड़ेंगे तांकि दलित छात्रों को उनक हक मिल सके। जिसके लिए सब के सहयोग की अवश्यकता है।
फोटो
दसवें दिन की भूखहड़ताल पर बैठे श्री गुरु रविदास संघर्ष कमेटी पदाधिकारियों को जूस पिलाते अलग अलग संस्थाओं के प्रतिनिधि

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

2 thoughts on “दलित हितों की कातिल सरकार को जगाने के लिए कड़े संर्घष की तैयारी- रॉबिन सांपला”
  1. I was extremely pleased to find this web site. I wanted to thank you for your time for this great post!! I certainly enjoy reading it and I have you bookmarked to have a look at new stuff you weblog post. Ariela Baxie Jaylene

Leave a Reply

Your email address will not be published.