Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

 

जालंधर23 जुलाई 2020 ( आखिर क्यों न्यूज़ )पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति मंच की ओर से भारत माता के महान सपूत चंद्रशेखर आजाद जी का जन्मदिवस अजीत नगर में मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ देश भक्ति का गीत सच्चा वीर बना दे मां गाकर किया गया इस अवसर पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति मंच पंजाब के प्रधान किशन लाल शर्मा ने कहा कि आज देश को चंद्रशेखर आजाद जैसे क्रांतिकारी वीरों की जरूरत है उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर आजाद जी के मन में बचपन से ही भारत माता को स्वतंत्रता कराने की भावना कूट-कूट कर भरी थी इसी कारण उन्होंने स्वय अपना नाम आजाद रख लिया था। उनके जीवन की एक घटना उन्हें सदा के लिए क्रांति के पथ पर अग्रसर कर दिया। 13 अप्रैल 1919 को जलियांवाला बाग की घटना को देखकर उनके मन में अंग्रेजों के प्रति रोष उत्पन्न हुआ उसके बाद में चंद्रशेखर आजाद ने इस रोष की ज्वाला पूरे भारत के नौजवानों के मन मैं जगाई। चंद्रशेखर आजाद ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर ऐसे ब्रिटिश अधिकारियों को निशाना बनाया जो सामान्य लोगों और स्वतंत्रता सेनानियों के विरुद्ध दमनकारी नीतियों के विरुद्ध जाने जाते थे। और कहा कि चंद्रशेखर आजाद कि उगर देश भक्ति और साहस ने उनकी युवा पीढ़ी को स्वतंत्रता संग्राम में भाग लेने के लिए प्रेरित किया था और चंद्रशेखर आजाद भगत सिंह के सलाहकार और एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे और भगत सिंह के उन्हें भारत के सबसे महान क्रांतिकारी में से एक माना जाता है। इस अवसर पर आजाद सिंह ने कहा कि देश के हर भारतवासी का कर्तव्य है ऊंच नीच का भेदभाव मिटाकर भारत की तरक्की के लिए कार्य करें।इस अवसर पर मंच के महामंत्री बोबिन शर्मा ने कहां की चंद्रशेखर आजाद एक सच्चे राष्ट्रभक्त थे। उनके जीवन से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए। इस अवसर पर राजवीर सिंह बुग्गा,बोबिन शर्मा,गुरुदेव सिंह,मनजीत सिंह ,गुरजीत सिंह, संदीप तोमर,नरेश शर्मा, हरजीत सिंह आदि सभी ने चंद्रशेखर आजाद जी के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed