Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

जालंधर,  एक ही छत के नीचे 19 से अधिक लोक भलाई स्कीमों का लाभ प्राप्त करने के लिए 7370 लोगों की तरफ से जिले में लगाए गए चारों सुविधा कैंपों में भाग लिया गया।

इससे सम्बन्धित और ज्यादा जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर श्री घनश्याम थोरी ने कहा कि सुविधा कैंप अपनी किस्म का विलक्षण प्रयास हैं, जिन में समूह सरकारी विभागों को एक मंच पर ला कर नागरिकों को निर्विघ्न और सुचारू ढंग से  सेवाएं प्रदान की गई हैं। उन्होंने बताया कि ज़िला प्रशास्निक कंपलैक्स जालंधर, फिल्लौर, नकोदर और शाहकोट में लगाए गए चारों कैंपों में कुल 7370 भागीदारों की तरफ से अलग -अलग सेवाओं के लिए अप्लाई किया गया है।

Advertisements
Advertisements

इन में पाँच मरला प्लाटों अलाटमैंट के लिए 3593 अर्ज़ियाँ, पैनशन स्कीमों के लिए 272 अर्ज़ियाँ, पी.एम.ए.वाई. के लिए 765, आई.ऐच.ऐच.ऐल. के लिए 197, गैस कुनैकशनों के लिए 344, ऐस.ऐस.बी.वाई के लिए 94, इंतकाल सम्बन्धित सेवाओं के लिए 777, मनरेगा जोब् कार्ड के लिए 113, 2 किलोवाट तक के लोड के बकाया बिजली बिलों की माफी के लिए 673, यू.डी.आई.डी. कार्डों के लिए 81 और पी.ऐम सवानिधी स्कीम के लिए 35 अर्ज़ियों के इलावा हरियाली स्कीम के अंतर्गत 700 पौधों की बाँट शामिल है।

Advertisements

ज़िला निवासियों को लोक भलाई स्कीमों का लाभ समयबद्ध और सुचारू ढंग से पहुँचाने की ज़िला प्रशासन की वचनबद्धता को दोहराते हुए डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि जिले में इन सुविधा कैंपों को सफल बनाने में कोई कमी नहीं छोड़ी जायेगी।

डिप्टी कमिश्नर ने आगे कहा कि जिले भर में ऐसे ओर कैंप लगाए जाएंगे। उन्होंने लोगों को इन कैंपों में अधिक से अधिक शामिल होने को यकीनी बनाने के लिए आगे आने की अपील की जिससे भलाई स्कीमों का लाभ लाभपातरियों तक पहुँचाया जा सके।

मुख्य मंत्री पंजाब स.चरणजीत सिंह चन्नी के नेतृत्व वाली राज्य सरकार के इस प्रयास को निवेकली पहल करार देते हुए डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि यह कदम लोगों को भलाई स्कीमों का लाभ पहुँचाने में बहुत लाभप्रद सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि कैंपों में आने वाले लोगों को 19 भलाई स्कीमों जिन में बस के पास, एल.पी.जी. कनैक्शन, बकाया बिजली बिल माफी, बिजली सम्बन्धित शिकायतें, सी.ऐल.यू., सामाजिक सुरक्षा स्कीमें, सरबत स्वास्थ्य बीमा योजना, जल सप्लाई कनैक्शन, राजस्व विभाग, कर्ज़े, पाँच मरले के प्लाटों की अलाटमैंट, आशीर्वाद स्कीम और वज़ीफ़ा स्कीम शामिल हैं, के लिए फार्म भरने में सहायता प्रदान की गई।

उन्होने यह भी कहा कि इन कैंपों को सुचारू ढंग से लगाने के लिए पुख़्ता प्रबंध किये गए थे, जहाँ विभागों की तरफ से लोगों को हर संभव सहायता प्रदान की गई। उनकी तरफ से आधिकारियों को यह यकीनी बनाने के निर्देश भी दिए गए थे कि सुविधा कैंपों में आने वाले लोगों को किसी किस्म की मुश्किल का सामना न करना पड़े।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You missed