Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

पिछले दिनों पंजाब के जालंधर बस अड्डे पर सिख जत्थेबंदियों ने राज्य सरकार के आदेश के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। सरकार ने पिछले दिनों नोटिफिकेशन जारी की थी कि सरकारी बसों में कोई धार्मिक चिन्ह या फोटो नहीं लगेगी। इसके विरोध में सिख जत्थेबंदियों के नेता अपने पूरे लाव लश्कर के साथ जालंधर के बस अड्डे पर पहुंचे थे, सभी के हाथों में संत जरनैल सिंह भिंडरांवाले की फोटो थी।

पंजाब सरकार के हवाले से आज पैप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन पटियाला ने आज फिर एक चिट्ठी जारी की है, जिसमें पिछले दिनों संत भिंडरावाले की तस्वीर लगाए जाने के रोक के आदेश को वापस लेने की बात कही गई है। अब उस आदेश को वापस ले लिया गया है, जिसमें कहा गया था कि संत भिंडरावाले की तस्वीर सरकारी बसों पर नहीं लगेगी।

Advertisements
Advertisements
जाहिर है कि सरकार द्वारा आदेश वापस लेने के बाद अब सरकारी बसों पर संत भिंडरावाले की तस्वीरें लग सकेंगी। इसके लिए बाकायदा बस स्टैंड के सभी जनरल मैनेजरों को चिट्ठी जारी की गई है।

इसके बाद भाजपा ने आम आदमी पार्टी पर तीखा प्रहार किया है।भाजपा के प्रदेश महासचिव सुभाष शर्मा ने कहा कि पंजाब की अमन शांति को भंग करने के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान जानबूझकर ऐसा आदेश जारी कर रहे हैं। सभी को पता कि जरनैल सिंह भिंडरावाले क्या थे, उनकी तस्वीरें फिर से सरकारी बसों पर लगने से राज्य की शांति व्यवस्था को खतरा पैदा हो सकता है।

Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements
Advertisements

By aakhirkyon

Its a web portal

Leave a Reply

Your email address will not be published.